29 C
Varanasi, IN
गोरखनाथ मन्दिर, उत्तर प्रदेश के गोरखपुर शहर में स्थित है जिसका नाम बाबा गोरखनाथ के नाम पर गोरखपुर पड़ा है। गोरखनाथ मन्दिर के वर्तमान महन्त श्री बाबा योगी आदित्यनाथ जी है जो वर्तमान के उत्तर प्रदेश के मुक्यमंत्री भी है, मकर संक्रान्ति के अवसर पर यहाँ विशाल मेला लगता है जो 'खिचड़ी मेला' के नाम से प्रसिद्ध है। हिन्दू धर्म,...
राजा शुद्धोधन की राजधानी कपिलवस्तु, अपने समय की बड़ी वैभवशाली नगरी थी। इसी कपिलवस्तु में राजा शुद्धोधन ने सिद्धार्थ और देवदत्त के बीच घायल हंस को लेकर उठे विवाद का निर्णय सुनाया था जिसका सार था की "मारने वाले से बचाने वाला बड़ा होता है" | इस राज्य की बहुत सी यादे महात्मा बुद्ध के साथ जुडी है | राजकुमार...
काशी विश्वनाथ मंदिर हिन्दुओं का सबसे प्रशिध मंदिरों में एक है और इसे भगवान शिव के १२ दिव्य ज्योतिर्लिंगों में से एक माना जाता है | ब्रह्माण्ड पर शासन करने वाले को विश्वनाथ और बनारस के पुराने नाम काशी को जोड़कर इसका नाम काशी विश्वनाथ दिया गया | ऐसा माना जाता है कि एक बार इस मंदिर के दर्शन करने...
सारनाथ, वाराणसी के १० किलोमीटर पूर्वोत्तर में स्थित प्रमुख बौद्ध तीर्थस्थल हैजहा ज्ञान प्राप्ति के पश्चात भगवान बुद्ध ने अपना प्रथम उपदेश दिया था जिसे "धर्म चक्र प्रवर्तन" का नाम दिया जाता है और जो बौद्ध मत के प्रचार-प्रसार का आरंभ था। यह स्थान बौद्ध धर्म के चार प्रमुख तीर्थों में से एक है (अन्य तीन हैं: लुम्बिनी, बोधगया...
वाराणसी भारत की सबसे पुरानी शहर में से एक है जो गंगा नदी के किनारे पर बसा है, दशास्वमेध घाट के किनारे रोज शाम को होने वाली गंगा आरती को देखने के लिए दूर दूर से श्रद्धालु आते है | आरती में अग्नि पूजा होती है जो भगवान शिव, माँ गंगा, सूर्य और अग्नि को समर्पित रहता है | वैदिक...

POPULAR ARTICLES